News Alerts Solar Inverter Price in India पुस्‍तकालय एवं सूचना केंद्र 27 28 29 30 31   एक तरफ घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली के दाम बढ़ाए गए हैं, वहीं पीथमपुर सेज के उद्योगों को इससे राहत दी गई है। सेज के उद्योगों को लगातार तीन साल से केवल 3 रुपए 35 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली मिल रही है जो जारी रहेगी। कांग्रेस बिजली की दरें बढ़ाने का लगातार विरोध कर रही है। List name अन्य लिंक उदय न्यूज़ IM आरटीआई में एक और सवाल यह भी था कि एक किलोवॉट में कितने यूनिट बिजली खर्च होती है। इसके जवाब में पता चला कि कंस्यूमर के बिना कहे बिजली कंपनियां कैसे उसके घर का लोड बढ़ा देती हैं। जवाब में बताया गया कि एक महीने में एक किलोवॉट के अंतर्गत 250 से 270 यूनिट तक बिजली खर्च होनी चाहिए। मंत्र भजन आरती 18-Aug-18 04:49 डंडारी बाग में अवैध कब्जा से संबंधित थाने में 4 FIR, आनन फानन में प्रशासन ने बुलाई बैठक उद्योग M T W T F S S News2018-05-28T16:54:36 Historical Tariff Gaya 0 प्रकटीकरण - सेबी (एसएएसटी) विनियम April 30, 2017 schemes-admin उत्तर प्रदेश हिन्दी न्यूज़ | News | मराठी | বাংলা | ગુજરાતી | ಕನ್ನಡ | தமிழ் | తెలుగు | മലയാള | रिलेटेड स्टोरी Punjab Kesari ग्लैमर Sat बड़ा पर्दा - छोटा पर्दा ANURAG THAKUR बुद्ध व बौद्ध दर्शन को दुनिया ने अपनाया: मुख्यमंत्री New Delhi Get the app ! 14-Jun-2017 पावर ट्रांसमिशन कंपनी द्वारा 4 प्रतिशत महंगाई भत्ते का आदेश जारी BJP सांसद GVL नरसिम्हा राव की कार ने 2 महिलाओं को... आराम से कटेगा बुढ़ापा, इन 5 जगह करें निवेश ITMI vs फिल्म समीक्षा 14-Dec-2017 ट्रांसमिशन कंपनी द्वारा ऊर्जा बचत के ब्रोशर, संदेश और स्टीकर का विमोचन गढ़वाल फरीदकोट/मुक्तसर क्रिकेट खबरें सुधार शिक्षा सेवाएं Nifty डीईआरसी चेयरमैन पी. डी. सुधाकर ने कहा कि अभी बिजली कंपनियां सस्ती बिजली खरीदने के कोई गंभीर प्रयास नहीं करती। हम ऐसा सिस्टम बनाना चाहते हैं कि अगर बिजली कंपनियां खर्च कम करती हैं तो उसका जो फायदा होगा उसका कुछ हिस्सा कंपनी को मिलेगा। वह एक तरह से बिजली कंपनी के लिए इंसेंटिव होगा। अभी ऐसा कोई इंसेंटिव नहीं है। हम चाहते हैं कि ऐसा हो। अगर वह मेहनत करके खर्च कम करते हैं तो उन्हें इसका इनाम मिले और इससे कंस्यूमर को भी फायदा होगा। Main Menu ई-निविदाएं (सीएमएम) हमारे बारे में …….. Jump to Contact US ePaper आस्था Our Program Hide Program X बिजली कंपनी KEDL का विरोध : महिलाओं ने गुलदस्ता और धोवना दिखाकर की अधिकारियों से वापस जाने की मांग भुगतान विवरण शिवराज पर आरोप, वोट बैंक को साधने के शुरू की गई सरल बिजली योजना By Hussain Kanchwala on August 20, 2018 August 24,2018 03:36:36 PM By कटिहार (डीके वत्स) : कटिहार बीएमपी में पदस्थापित सिपाही अजय रजक ने अपनी पहली पत्नी की हत्या कर दी है. यह सनसनीखेज खबर से इलाके में सनसनी मच गयी है. शव को फंंदे से झूलता […] साल की सबसे डरावनी कहानी होगी राधिका आप्टे की 'घुल', देखने को मजबूर करेंगी ये 5 बड़ी वजह […] http://cgbasket.in/?p=15653 […] Kishanganj Entertainment News अदावी बॉण्ड डिलीवरी के समय मोबाइल में बिजी थी डॉक्टर, गर्भ से निकल डस्टबिन में गिरा बच्चा विधानसभा में विपक्ष के नेता सुखपाल खैहरा ने बिजली दरों में लगभग 10 प्रतिशत वृद्धि की ङ्क्षनदा करते हुए इसे तुरंत वापस लेने की मांग की है। इस संबंध में अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी बिजली दरों में वृद्धि को तुरंत वापस लेने की मांग करते हुए कहा है कि ‘‘कांग्रेस सरकार औद्योगिक क्षेत्र को 5 रुपए प्रति यूनिट बिजली देने सहित सभी वर्गों को सस्ती बिजली देने के वायदे कर रही थी परंतु इसने उलटा बिजली दरों में वृद्धि करके लोगों से एक बार फिर धोखा किया है।’’  देहरादून (भाषा)। उत्तराखंड में बिजली की दरों में औसतन 5.72 प्रतिशत की वृद्धि की गई है जो आगामी एक अप्रैल से प्रभावी होगी। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष सुभाष कुमार ने यहां बताया कि अगले वित्त वर्ष 2017-18 के लिए की गई इस वृद्धि के बावजूद उत्तराखंड में बिजली पूरे देश में अब भी सबसे सस्ती है। बिज़नस VIDEO: छात्रसंघ चुनावों की हलचल शुरू, ABVP ने किया प्रदर्शन रामगढ़ SHIMLA WOMEN ACCIDENT त्रुटि 404: पृष्ठ नहीं मिला रक्षाबंधन 2018: जानें भाई की राशि के हिसाब से कैसा हो राखी का रंग और कितनी लगाई जाएं गांठें Next articleलोकसभा में उठा बिहार के नियोजित शिक्षकों का मामला अभी-अभी हमारे बारे में Nalanda Svenska ‹ › सीपीआरआई के बारे में 1:18:09 PM विद्युत प्रणाली विंग SBI Share Price Press Releases बॉक्स ऑफ़िस कुलपति के तानाशाही के खिलाफ उठाए थे आवाज़, ट्वीट का बहाना बना करवाया लिंचिंग भिलाई में डेंगू से मौत का आंकड़ा पहुंचा 14, अस्पतालों में मुफ्त इलाज की घोषणा प्रत्यय पत्र 9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.? छपरा सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई 0-200 यूनिट (4 रुपये की जगह 3 रुपये प्रति यूनिट) Contact us: [email protected] राज्य विद्युत नियामक आयोग ने सभी श्रेणियों में कुल मिलाकर औसतन 12.73 फीसदी की वृद्धि की है। विद्युत अधिनियम 2003 के प्रावधानों के अनुसार पावर कार्पोरेशन ने 2 दिसंबर को नई दरों का सार्वजनिक प्रकाशन कराया था। कानूनन सार्वजनिक प्रकाशन के एक सप्ताह बाद नई दरें प्रभावी हो जाती हैं। अफसरों का कहना है कि शनिवार से नई दरें प्रभावी हो जाएंगी। इसके लिए तैयारियां कर ली गई हैं। बिलिंग सॉफ्टवेयर में संशोधन आदि की प्रक्रिया पूरी करा ली गई है। गेस्ट हाउस में चल रही थी रेव पार्टी, 150 छात्र-छात्राओं को… कृषि निर्देशिका Time: 2018-08-24T20:19:16Z राजस्थान: कांग्रेस की 'संकल्प रैली' का आगाज, पायलट बोले- भाजपा ने किया जनादेश का अपमान बिजली आपूर्ति-भारतीय परिदृश्य BPSC चित्तौड़गढ़, 23 अगस्त (उदयपुर किरण). प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से उदयपुर संभाग का संभाग ... Read More » ज्योतिष धर्म दस्तावेज़ All संपादन राजस्‍थान आयोग के सचिव पीएन सिंह का कहना है कि प्रस्ताव आयोग को मिला है. 17 व 18 जनवरी मामले में कंपनी के प्रतिनिधियों को बुलाया गया है. फिर आम सहमति के बाद ही इस पर निर्णय होगा. मुख्य सामग्री पर जाएं 17-Aug-18 12:41 विद्युत प्रवाह फोटो इस योजना का लाभ गाँव के साथ-साथ शहर के लोगों को भी मिलेगा। हेल्पलाइन सस्ता बिजली - ऊर्जा की कीमतें सस्ता बिजली - ऊर्जा स्विच करें सस्ता बिजली - इलेक्ट्रिक कंपनियां
Legal | Sitemap